December 2019

एक उद्योगपति को शिक्षक का जवाब

# एक बड़े *उद्योगपति* शिक्षा संस्थानों के *शिक्षकों* को संबोधित कर रहे थे- “देखिए! बुरा मत मानिए ! लेकिन जिस तरह से आप काम करते हैं; जिस तरह से आपके संस्थान चलते हैं यदि मैं ऐसा करता तो अब तक मेरा बिजनेस डूब चुका होता ।” चेहरे पर *सफलता का दर्प* साफ दिखाई दे रहा था ! “समझिए ! आपको बदलना होगा; आपके राजकीय संस्थानों को बदलना होगा; आप लोग